---Advertisement---

Singrauli News: 45 डिग्री तापमान व लू से पीडि़त मरीजों की बढ़ी संख्या

By
On:

सिंगरौली 14 जून। जिले में इन दिनों सूर्यदेवता आसमान से आग की तरह गोले बरसा रहे हैं। लगातार बढ़ते तापमान एवं लू के प्रकोप से बच्चे एवं बुजुर्ग व्यक्ति बीमार पड़ रहे हैं। जिला चिकित्सालय सह ट्रामा सेन्टर इसका सबसे बढ़ा उदाहरण हैं। जहां उल्टी दस्त, पेट र्दद, शरीर में अकड़ के लक्षण ज्यादा हैं।

दरअसल जिले में एक बार फिर से सूर्यदेवता आसमान से आग बरसा रहे हैं। आलम यह है कि दिन शुक्रवार को बैढऩ अंचल का तापमान 45 डिग्री एवं चितरंगी अंचल में 46 डिग्री अधिकतम तापमान महसूस हो रहा था। वही न्यूनतम 32-33 डिग्री के आसपास रहा है। इधर लू का भी तांडव जारी है। लू के चपेट में आने से जिला चिकित्सालय बैढऩ में लगातार मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। इस संबंध में जिला चिकित्सालय के चिकित्सक डॉ. संतोष कुमार ने बताया कि इन दिनों उल्टी दस्त, पेट दर्द, पेशाब में जलन, शरीर में जलन, बुखार और शरीर में चर्म रोग जैसे लक्षण मिल रहे हैं। उन्होंने आमजनों से सावधानी बरतने का अपील भी किया है और कहा है कि जरूरत पडऩे पर ही घरों से बाहर निकले। धूप एवं लू से बचने का प्रयास करें। ज्यादा से ज्यादा पानी एवं तरल पदार्थ का उपयोग करें।

बिजली के कटौती बिलबिला उठे शहरवासी

बैढऩ शहर में इन दिनों बिजली सुधार का काम चल रहा है। किन्तु बिना सूचना के ही बिजली काट दी जा रही है। बैढऩ शहर के मोहल्लों में विगत तीन दिनों से यही चल रहा है। सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक बिजली गुल थी। बैढऩ के कचनी, गनियारी, बिलौंजी, बलियरी सहित आसपास में बिजली सुबह से लेकर दोपहर 1 बजे तक बंद थी। जिसके चलते लोग भीषण गर्मी से बिलबिला उठे और एमपीईबी को कोसने में कोई कोर कसर भी नही छोड़ रहे थे। हालांकि एमपीईबी के अधिकारियों का कहना है कि जबलपुर से ही बिजली मरम्मत की एसएमएस सूचना दे दी जाती है। लेकिन उपभोक्ताओं का आरोप है कि बैढऩ शहर में बिजली की व्यवस्था इन दिनों अस्त व्यस्त हो चुकी है। इस भीषण गर्मी में बिजली के एक मिनट कटते ही लोगों में हायतोबा मच जाती है।

न्यूज वेबसाइट बनवाने के लिए संपर्क कीजिए -7805875468
Join Our WhatsApp Group

Leave a Comment